Policewala
Home Policewala इंदौर में मनाया गया विश्व जल दिवस
Policewala

इंदौर में मनाया गया विश्व जल दिवस


इंदौर मध्य प्रदेश
जल के बिना जीवन की कल्पना मुश्किल- जल बचाना समय की सबसे बड़ी जरूरत- पूर्व लोकसभा अध्यक्ष श्रीमती महाजन

मंत्री सिलावट ने जल की एक-एक बुंद को सहजने और बचाने की अपील की

नागरिकों को जल बचाने की दिलाई गई शपथ- वृक्षारोपण भी किया गया
इंदौर 22 मार्च, 2023
जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट की पहल पर आज इंदौर में विश्व जल दिवस के अवसर पर कार्यक्रम का आयोजन किया गया। यह कार्यक्रम रेसीडेंसी परिसर में आयोजित हुआ। कार्यक्रम में पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन, जल संसाधन मंत्री तुलसीराम सिलावट, सांसद शंकर लालवानी, कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी, देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति रेणु जैन, पूर्व महापौर कृष्णमुरारी मोघे, पूर्व विधायक राजेश सोनकर, जनक पलटा, डॉ. निशांत खरे, सुशील दोषी, मीररंजन नेगी, सुरेश कुरवाड़े, मनोज मिश्रा, योगेश गेंदर, अन्ना महाराज सहित अन्य जनप्रतिनिधि विभिन्न विभागों के अधिकारी और बड़ी संख्या में नागरिक मौजूद थे।
कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये श्रीमती महाजन ने कहा कि जल के बगेर जीवन नहीं है। जल है तो जीवन है। जल बचाना वर्तमान समय की सबसे बड़ी जरूरत है। हमें पानी की प्रत्येक बुंद को बचाना होगा। जल संरक्षण के लिये जागरूकता लाना होगी। जल संरक्षण और संवर्धन के लिये सबको मिलकर कार्य करना होंगे। उन्होंने कहा कि इंदौर में जल संरक्षण और संवर्धन की दिशा में उल्लेखनीय कार्य हुए है। पिछले वर्षों में यहां बड़ी संख्या में नए तालाब बने है। वॉटर रिचार्जिंग के उल्लेखनीय कार्य भी किये गये है। उन्होंने कहा कि जिले में तालाबों का संरक्षण भी बेहतर तरिके से हो रहा है। पुराने तालाबों का जीर्णोद्धार भी किया जा रहा है।
जल संसाधन मंत्री श्री सिलावट ने नागरिकों से अपील कि है कि वे जल की प्रत्येक बुंद को सहजे और उसे बचाये। जल का जीवन में बड़ा महत्व है। हम जल की महत्ता को समझे। जल है तो कल है। कल के भविष्य को सुरक्षित करने के लिये हर हाल में जल को बचाना ही होगा। आज हम जल के प्रति सचेत नहीं हुए, तो भविष्य में प्रतिकूल प्रभाव पड़ेगा। श्री सिलावट ने कहा कि राज्य सरकार जल संरक्षण और संवर्धन के प्रति कृत संकल्पित है। राज्य सरकार द्वारा विशेष अभियान चलाकर जल संरक्षण के लिये विशेष कार्य किये जा रहे है।
कार्यक्रम में नागरिकों को जल की प्रत्येक बुंद को बचाने, जल संरचनाओं को प्रदूषित नहीं करने, जल प्रदूषण रोकने, जल संरक्षण और संवर्धन तथा प्रबंधन के उपायो में सार्थक सहभागिता सुनिश्चित करने की शपथ दिलाई गई। कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा वृक्षारोपण भी किया गया। रिपोर्ट अनिल भंडारी

Leave a comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Related Articles

राजधानी के प्रमुख चौक चौराहों और नो पार्किंग पर वाहन खड़ी कर सवारी बैठाने वाले 248 ऑटो चालकों पर पुलिस ने की कार्रवाई

रायपुर छत्तीसगढ़ वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार सिंह के निर्देशन में शहर...

उप थाना अंजनिया की कार्यवाही, पदोन्नति दिलवाने के नाम पर धोखाधड़ी करने वाली गैंग खुलासा

मंडमंडला > चौंकी अंजनिया थाना बम्हनी में आँगनवाडी कार्यकर्ताओं से मोबाईल पर...

चोरी गई टवेरा कार को लालबर्रा पुलिस ने 12 घंटे मे आरोपी चोर से किया बरामद।

बालाघाट मध्यप्रदेश बालाघाट-आवेदक मोहगांव घपेरा थाना लालबर्रा जिला बालाघाट निवासी राजेश मेहरकर...

किसी भी प्रकार के एग्जिट पोल तथा इसके परिणाम का प्रकाशन या प्रचार करना एक जून की शाम 6:30 बजे तक पूर्णत: प्रतिबंधित है

भोपाल : शुक्रवार, मई 24,2024 लोकसभा निर्वाचन-2024 की आदर्श आचार संहिता प्रभावशील...